Mother emotional hindi story | maa ki tadap

राजू को गांव से सहर गए हुआ 10 साल हो गए थे । वो इन 10 सालो में कभी भी गांव नहीं आया था । सहर में राजू एक किराये के मकान में अपनी पत्नी और 5 साल के बेटे के साथ रहता था । । ।

Mother emotional hindi story


एक दिन राजू अपनी पत्नी और बेटे के साथ मेले में घूमने गया । मेले में घूमते घूमते अचानक उसका बेटा कही खो गया । राजू और उसकी पत्नी दिन भर अपने बेटे को ढूढ़ते है । पर उनका बेटा कही नहीं मिलता । राजू कि पत्नी का रो रो कर बुरा हाल हो जाता है । । ।

》Maa ka dil hindi emotional story 

फिर वो अपने बेटे के खोने कि जानकारी पुलिस को देते है । पुलिस थोड़ी देर के बाद लड़के को ढूंढ कर राजू के पास पहुंचा देती है । बेटा मिलते ही राजू रेलवे स्टेशन जाता है और अपने गांव कि 3 टिकट्स ले आता है । ।

》Short love story in hindi 

रास्ते में जब राजू कि पत्नी उससे पूछती है । हम गांव क्यों जा रहे है । हमें तो अपने घर जाना है ।
तब राजू अपनी पत्नी से कहता है । । ।

》Girl friend  hindi  sad  love  story 

तू अपने बेटे के बगैर थोड़ी देर भी नहीं रह सकती तो मेरी माँ पिछले 10 सालो से मेरे बगैर कैसे रह रही होगी । । । । 
Mother emotional hindi story | maa ki tadap Mother emotional hindi story | maa ki tadap Reviewed by Mohd sarfraj on February 04, 2017 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.