Short story in hindi Faisla | हिन्दी कहानी फैसला

एक गरीब किसान ने एक साहूकार से कुछ क़र्ज़ लिया । लेकिन गरीब किसान मुसीबतो के चलते उस साहूकार का क़र्ज़ चुका न सका । जब साहूकार को यह यक़ीन हो गया की गरीब किसान उसका क़र्ज़ चुका न पायेगा तो उसने गरीब किसान के ऊपर मुकदमा दायर कर दिया ।।।

Short story in hindi Faisla


मुकदमे का फैसला अपने हक़ में करबाने के लिए साहूकार ने जज साहब को एक जोड़ी क़ीमती जूती नज़राने में भेट कर दी ।

》अनमोल वचन और हिन्दी sms 

जब गरीब किसान ने अदालत में देखा की यहाँ तो बिना रिस्बत के कुछ होने बाला नहीं तो उसने अपनी एक खूब दूध देने बाली बकरी जज साहब को तोहफे में भेंट कर दी ।

》भिकारी और कुत्ता  की कहानी 

जब फैसले का बक्त आया तो जज साहब ने फैसला किसान के हक़ में दिया ।

ये सुनकर साहूकार ने कहा ।
हुजूर आपकी जूती मेरे सर पऱ । आप अपनी जूटी की कुछ तो लाज रखिये ।
तो जज साहब ने साहूकार को जवाब दिया ।
सेठ जी जूती को तो बकरी ने चबा लिया । 

No comments:

Powered by Blogger.