Short story on friendship in hindi | दो दोस्तो की कहानी

बचपन से अच्छे दोस्त थे । दोनों की उम्र लगभग 90 साल की थी ।।।

एक दिन एक दोस्त बहुत बिमार हो गया दूसरा दोस्त रोज उससे मिलने के लिए आता था ।
बीमार दोस्त को यह यक़ीन हो गया था की वो चंद दिनों का ही मेहमान है । एक दिन दोस्त ने बिमार पड़े दोस्त से कहा? ।।।

Short story on friendship in hindi


देखो जब तुम मर जाओगे तो मेरे लिए एक काम जरूर करना । बिमार दोस्त ने पूछा कौन सा काम ।।।

》True friendship hindi story 

तुम मरने के बाद जन्नत में क्रिकेट खेलते है या नहीं इसके बारे में जरूर बताना ।
जरूर बताऊगा बिमार दोस्त ने कहा और 2-3 दिन में ही बिमार दोस्त मर गया । कुछ दिनों के बाद उसे मरे हुए दोस्त की आवाज नीद में सुनाई दी और वो बोला तुम्हारे लिए मेरे पास दो खबरे है एक अच्छी और एक बुरी ।

》Bewafa dost hindi emotional story 

दोस्त बोला पहले अच्छी खबर सुनाओ ।
अच्छी खबर यह है की जन्नत में क्रिकेट खेलते है और बुरी खबर यह है की इस संडे के मैच में तुम्हे बोलिंग करनी है ।।।

(दोस्तों दोस्ती हमेशा दोस्ती ही रहती है ) 

No comments:

Powered by Blogger.